You are currently viewing 10 Lines Essay On Happy New Year In Hindi | नये साल पर हिंदी निबन्ध 2022

10 Lines Essay On Happy New Year In Hindi | नये साल पर हिंदी निबन्ध 2022

हेलो दोस्तों आज के इस टॉपिक में हम बात करेंगे दिसम्बर के बाद शुरू होने वाले नए साल के बारे में जिसमे हम अपने नये साल का सफर शुरू करते हैं वैसे तो साल के बारह महीने एक जैसे हो होते हैं लेकिन जनवरी का महीना साल का पहला महीना होता है |

नये साल के उपलक्ष में हम लोग क्या क्या तैयारियां करते हैं और अपने पूरे साल की प्लानिंग करते हैं जिसमे लोग क्या क्या निर्णय लेते हैं हमे सिर्फ उन्ही बातों पर ध्यान देना हैं जो नए साल में हम करते हैं |

Essay on happy new year in hindi : नए साल पर निबन्ध

वैसे तो पूरी दुनिया में नया साल अलग अलग दिन मनाया जाता है और भारत के अलग अलग क्षेत्र में भी नए साल की शुरुआत अलग अलग समय पर होती है लेकिन अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार जनवरी से नए साल की शुरुआत मानी जाती है| क्योकि अंग्रेजी कैलेंडर के हिसाब से 31 दिसम्बर को एक वर्ष का अंत होने के बाद 1 जनवरी से नए कैलेंडर वर्ष की शुरुआत होती है|

इसीलिए इस दिन को पूरी दुनिया में नया साल शुरू होने के उपलक्ष्य में पर्व की तरह मनाया जाता है |

नया साल नई उम्मीदों, नए सपने, नए लक्ष्य और नए आइडियाज की उमीद देता है इसिलए सभी लोग ख़ुशी से इसका स्वागत करते है और ऐसा माना जाता है की साल का पहला दिन अगर उत्साह और ख़ुशी के साथ मनाया जाये तो पूरा साल इसी उत्साह और खुशियों के साथ बीतेगा |

हालाँकि हिन्दू पंचांग के अनुसार नया साल 1 जनवरी से शुरू नहीं होता| हिन्दू नववर्ष का आगाज गुडी पडवा से होता है लेकिन 1 जनवरी को नया साल मनाना सभी धर्मो में एकता कायम करने में भी महत्वपूर्ण योगदान देता है |

क्योकि इसे सभी सभी मिलकर मनाते है 31 दिसम्बर की रात को ही कई स्थानों पर अलग अलग समूहों में इकठ्ठा होकर लोग नये साल का जश्न मनाना शुरू कर देते हैं और रात 12 बजते ही सभी एक दुसरे को नये साल की शुभकामनाएं देते हैं |

नया साल एक नयी शुरुआत को दर्शाता है और हमेशा आगे बढ़ने की सिख देता है पुराने साम में हमने जो भी किया, सिखा, सफल या असफल हुए उससे सीख लेकर एक नयी उम्मीद के साथ आगे बढ़ना चाहिए |

जिस प्रकार हम पुराने साल के समाप्त होने पर दुखी नहो होते बल्कि नये साल का स्वागत बड़े उत्साह और ख़ुशी से करते हैं उसी तरह जीवन में भी बीते हए समय को लेकर हमे दुखी नहीं होना चाहिए जो बीत गया उसके बारे में सोचने की अपेक्षा आने वाले अवसरों का स्वागत करे और उनके जरिये जीवन को बेहतर बनाने की कोशिश करें |

नए साल की ख़ुशी में कई स्थानों पर पार्टी आयोजित की जाती है जिसमे नाच-गाना और स्वादिष्ट व्यंजनों के साथ-साथ मजेदार खेलो के जरिये मनोरंजन किया जाता है कुछ लोग धार्मिक कार्यकर्मो का आयोजन कर ईश्वर को याद कर नए साल की शुरुआत करते हैं |

10 lines essay on happy new year in hindi : नए साल पर 10 लाइनों में निबन्ध

  1. नए साल का त्यौहार पूरे विश्व में बड़े ही उत्साह के साथ मनाया जाता है |
  2. इस दिन पिछले साल को विदा करके नए साल का स्वागत करते हैं |
  3. नए साल का यह त्यौहार 31 दिसम्बर की रात को 12 बजे मनाया जाता है |
  4. रात को 12 बजते ही लोग आतिशबाजी करके नए वर्ष का स्वागत करते हैं|
  5. 1 जनवरी को लोग एक दुसरे को नए वर्ष की शुभकामनाएं देते हैं |
  6. विश्व के अधिकांश देश नए साल की तैयारी करते हैं|
  7. इस दिन विशेष कार्यक्रम, सामूहिक पार्टी आदि आयोजित किये जाते है|
  8. बाजार रंग-बिरंगे ग्रीटिंग कार्डों और सजावटी सामान से सजे होते हैं |
  9. इस दिन बच्चे अपने दोस्तों, अध्यापको और माता पिता को ग्रीटिंग कार्ड देते हैं |
  10. इस दिन सभी अच्छे नए वर्ष की कामना करते हैं और बुराइयों को छोड़कर बेहतर बनने का संकल्प लेते हैं |
Essay on happy new year in hindi
Photo by Anna Tarazevich from Pexels

10 lines on happy new year in hindi : नए साल पर 10 लाइनों में निबन्ध

  1. नया साल सभी जगह 1 जनवरी को मनाया जाता है यह दिन नई उम्मीदों का दिन होता है |
  2. नया साल सभी लोगो के लिए बुत ख़ास होता है यह दिन सभी जगह बहुत ही धूमधाम के साथ मनाया जाता है |
  3. इस दिन सभी लोग बहुत उत्साहित रहते हैं| कुछ लोग इस दिन मंदिर जाते हैं तथा भगवान् से आने वाले साल के लिए खुशियाँ मांगते हैं |
  4. इस दिन कुछ लोग पिकनिक पर भी जाते हैं तथा अपने परिवार और दोस्तों के साथ समय बिताते हैं |
  5. नए साल में कुछ लोग पार्टी भी करते हैं इस प्रकार सभी लोग अपने अपने तरीके से नए साल का स्वागत करते हैं |
  6. यह दिन स्कूल में भी बड़े धूमधाम से मनाया जाता है तथा सभी बच्चे बहुत उत्साहित रहते हैं |
  7. स्कूल में विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम होते हैं जो बच्चो द्वारा ही आयोजित किये जाते हैं| जिसमे नृत्य, संगीत आदि से जुड़े कार्यक्रम होते है|
  8. कई लोग इस दिन अपनी कोई बुरी आदत छोड़ने का प्रण भी लेते हैं की आने वाले साल को उस बुरी आदत को छोड देंगे |
  9. इस प्रकार नया साल सभी लोगो के लिए खुशियाँ लाता है और नए साल में कुछ अलग करने का जोश भरता है |
  10. लोग कोशिश करते हैं की हमारा नए साल का पहला दिन एक दम सही गुजरे जिससे पूरा साल भी ही गुजरेगा |

Also Read : समय का महत्व पर निबन्ध

Final Word :

दोस्तों नए साल के अवसर पर हमे एक ऐसा प्रण लेना चाहिए की जिसे आप पूरे साल फॉलो करे और अपने काम में सफल हो |

वैसे तो हर दिन एक नयी रौशनी के साथ शुरू होता है जिसे हम नया दिन समझकर शुरू करते हैं इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है की कब नया साल आएगा और कब मैं अपना शुरू करूँगा |

हर दिन को एक नया साल समझकर जियो तभी आपका हर साल अच्छा गुजरेगा नहीं तो नये साल के इन्तेजार में पूरा समय बर्बाद हो जाएगा |

अगर आपको मेरी बात अच्छी लगी और आपने नए साल में क्या सोचा है अपनी राय हमे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं |

FAQs..

नया साल क्यों मनाया जाता है?

नया साल लोगो के लिए एक नए दिन की शुरुआत होती है जिसे लोग बढे धूमधाम से मनाते हैं और प्रण लेते हैं की नये साल के पहले दिन से सभी काम ईमानदारी से करेंगे |

क्या नए साल का पहला दिन शुभ होता है?

ऐसा बिलकुल भी नहीं है लें लो नए साल के पहले दिन को पॉजिटिव तरीके से लेते हैं और उस दिन कुछ भी गलत काम नहीं करते हैं और कोशिश करते है की पूरा साल ऐसे ही गुजरे|

क्या नए साल के बाद पूरा साल अच्छा गुजरता है?

ऐसा नहीं है जैसा आप काम करोगे वैसा ही आपना साल गुजरेगा उसका नए साल से कोई लेना देना नहीं है |

Vikram mehra

मेरा नाम विक्रम मेहरा है मै उत्तराखंड का रहने वाला हु मैंने B.sc (PCM) से की हुई है और मुझे टेक्नोलॉजी, साइंस और लोगो को अपने ऑनलाइन माध्यम से शिक्षा देना बहुत पसंद है मेरा मकसद ऑनलाइन माध्यम से लोगो तक इनफार्मेशन पहुचाना है और साथ ही मुझे मूवीज देखना, घूमना बहुत पसंद है |

Leave a Reply