You are currently viewing Essay On My Mother In Hindi | मेरी माँ पर हिंदी निबन्ध

Essay On My Mother In Hindi | मेरी माँ पर हिंदी निबन्ध

हेलो दोस्तो आज के इस टॉपिक मेरी माँ पर एक बेहतरीन निबन्ध लिखने जा रहे हैं जिसमे हम माँ शब्द का मतलब बतायेंगे| वैसे माँ एक ऐसा रिश्ता है जिसके बारे में जितनी बात करो उतनी ही हम है और कोई भी शब्द इसका बखान नहीं कर सकता है |

वैसे भी हमारे देश में हमे यही सिखाया गया है की माँ का दर्जा सबसे उपर होता है और इसकी कोई तुलना नही कर सकता है हमे सिखाया गया है की माँ, पिता, गुरु और देवता|

अब आप सोच सकते हैं की माँ का दर्जा कितना बड़ा है जो की दुनिया में सबसे सर्वश्रेष्ठ है कहते हैं की माँ के चरणों में ही भगवान है, माँ के ही चरणों में पूरी दुनिया है|

10 lines essay on my mother in hindi | मेरी माँ पर 10 लाइन में निबन्ध

  1. इस दुनिया में सबसे आसान और अनमोल शब्द माँ है| माँ दुनिया का एकमात्र ऐसा शब्द है, जिसे किसी परिभाषा की जरूरत नहीं, क्योकि यह शब्द नहीं एहसास है |
  2. माँ प्रेम, त्याग और सेवा की मूर्ती है सचमुच, माँ ईश्वर का प्रतिरूप है मेरी माँ का नाम नंदी देवी है और वो सच में देवी ही हैं |
  3. मेरी माँ बहुत समझदार, मेहनती और दयालु है वह सुबह सबसे पहले उठ जाती है और वह पूरे परिवार का अच्छे से ख़याल रखती है माँ पूरे परिवार के अलावा घर का अच्छे से ध्यान रखती है |
  4. मेरी माँ हमेशा काम में व्यस्त रहती है मै उन्हें थकते हुए नहीं देखता हु, शायद वे हमे दिखाती नहीं है की वो अंदर से कितनी थकी हुई है लेकिन हम अपनी माँ का अच्छे से ख़याल रखते हैं |
  5. मेरी माँ मेरी मार्गदर्शक, गुरु और मेरी सबसे अच्छी दोस्त भी है मेरी माँ ने मुझे बचपन से लेकर आज तक नेकी और सदाचार के मार्ग पर चलने की सीख दी है मेरी माँ मेरे दिल की हर बात को जान लेती हैं|
  6. मेरी माँ मेरे हर सुख दुःख में मेरे साथ रहती है| जब भू मै किसी परेशानी में होता हु तो मेरी माँ मुझमे आत्मविश्वास भर देती हैं और मेरे बुरे समय में वह मुझमे उम्मीद की रौशनी जलाती हैं वह मुझे हमेशा अच्छा इंसान बनने के लिए प्रेरित करती हैं |
  7. मेरी माँ गरीब और असहाय लोगो की मदद करती हैं आज मै जो कुछ भी हु अपनी माँ की बदौलत हु मेरे पूरे जीवन में मेरी माँ का पूरा योगदान है |
  8. मेरी माँ मेरे लिए देवी समान है जिसे में दिल से पूजता हु मै दुनिया में सबसे ज्यादा प्यार और भरोसा मेरी माँ पर करता हु मै भगवान् को धन्यवाद करता हु की उन्होंने मुझे दुनिया की सबसे अच्छी माँ दी है |
  9. मैं बड़ा होकर दुनिया की हर ख़ुशी अपनी माँ के चरणों में लला दूंगा| वह माँ ही है जिसके रहते जिन्दगी में कोई गम नहीं होता है, दुनिया साथ दे या ना दे पर माँ का प्यार कभी कम नहीं होता |
  10. एक माँ अपने बच्चे को नौ महीने अपने कोख में पालती है जिसका एहसान कोई भी बेटा या बेटी नहीं चुका सकती है |
Essay On My Mother In Hindi

10 lines on my mother in hindi : मेरी माँ पर 10 लाइनों में निबन्ध

  1. मेरी माँ दुनिया की सबसे अच्छी माँ है और मेरी माँ मुझे सबसे ज्यादा प्यार करती है क्योकि मै अपनी माँ से दूर रहता हु जिससे मै अपनी माँ को काफी मिस करता हु और वो भी मुझे काफी मिस करती हैं |
  2. मेरी माँ ने मुझे बड़े लाड प्यार से पाला पोषा है क्योकि अक्सर में बचपन में काफी बीमार रहता था जिसके चलते मेरी माँ को मेरा ज्यादा ख्याल रखना पड़ता था |
  3. जिस तरह से मेरी माँ हमारे बारे में अभी भी सोचती हैं उसी तरह हम भी अपनी माँ के बारे में सोचते है की मेरी माँ की तबियत खराब तो नहीं है, या फिर उसे किसी चीज की जरूरत तो नहीं है |
  4. मेरी माँ तो कितनी भी तकलीफे क्यों ना हो वो कभी हमे बताने की कोशिश नहीं करती है मेरी माँ को लगता है की मेरे बताने से मेरे बच्चे परेशान हो जाएँगे वो अपनी परेशानी को खुद ही झेल लेती है लेकिन एक माँ का प्यार ही है, जिससे हमे अपनी माँ की सभी तकलीफे पता चल जाती हैं |
  5. मेरी माँ बचपन में मेरी गलतियों को छुपा देती थी और जब भी मेरे पापा मुझे पिटते थे वो मेरी माँ मुझे बचाने की कोशिश करती थी |
  6. मेरी माँ ने बचपन से लेकर आज तक मुझे किसी भी चीज की कमी नहीं होने दी| मै जो कुछ भी मांगता था वो मुझे लाकर देती थी |
  7. मै अभी भी अपनी वो बचपन की यादो को मिस करता हु जब वो मुझे बड़े लाड प्यार से खिलाती थी हालाँकि अब हम बड़े हो गये हैं लेकिन अभी भी हम अपनी माँ के लिए एक बच्चे ही है |
  8. अपने माँ बाप का कभी कर्ज नहीं चुकाया जा सकता है माता-पिता की सर्वोपरि हैं| अपने माता-पिता की सेवा कर लो स्वर्ग यही माता-पिता की चरणों में है |
  9. कोई भी माँ अपने बच्चे का बुरा नहीं चाहती है अगर वो अपने बच्चो को डांट भी ले तो उसे एक सीख की तरह हमे लेना चाहिए |
  10. कभी भी अपने माँ बाप के दिल को ठेस नहीं पहुचानी चाहिए, अगर आपने ऐसा कर लिया अनजाने में तो समय रहते उसे सुलझा लेना चाहिए|

Also Read : रक्षाबंधन पर 10 लाइन में निबन्ध

Also Read : शिक्षक दिवस पर 10 लाइन में निबन्ध

Final Word :

दोस्तों माँ के बारे में जितनी भी व्याख्या करे उतनी ही कम है और शब्द कम पड़ जाएँगे हमे माँ शब्द का मतलब समझाने में, भले ही माँ एक शब्द है लेकिन इसका बखान कोई नहीं कर सकता है |

मेरे द्वारा जो यह टॉपिक लिखा गया है यह मेरा अनुभव है शायद आपका भी यही अनुभव होगा और मेरा खासकर उन लोगो के लिए सुहानुभूति है जिनके माँ बाप का साया उनके बचपन से ही उठ गया है |

दुनिया में सारी खुशिया किसी एक को नहीं मिलती है शायद भगवान सभी को मोलभाव करके ही सुख-दुःख बांटता है इसिलए आपके जीवन में अगर किसी शख्स की कमी है तो उसकी जगह दुखी होने के बजाय सुख पाने का रास्ता ढूंढ लेना चाहिए |

अगर आपको मेरी बात अच्छी लगी तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके हमे बता सकते हैं |

Vikram mehra

मेरा नाम विक्रम मेहरा है मै उत्तराखंड का रहने वाला हु मैंने B.sc (PCM) से की हुई है और मुझे टेक्नोलॉजी, साइंस और लोगो को अपने ऑनलाइन माध्यम से शिक्षा देना बहुत पसंद है मेरा मकसद ऑनलाइन माध्यम से लोगो तक इनफार्मेशन पहुचाना है और साथ ही मुझे मूवीज देखना, घूमना बहुत पसंद है |

Leave a Reply