You are currently viewing Be Obsessed Or Be Average Book Summary In Hindi By Grant Cardone

Be Obsessed Or Be Average Book Summary In Hindi By Grant Cardone

हेलो दोस्तों आज के इस टॉपिक में हम बात करेंगे मशहूर लेखक और बिज़नस मैन Grant Cardone के बारे में जिन्होंने इस किताब को 2016 में लिखा था जिसका नाम be obsessed or be average है एक बार अगर आप इस किताब को पढ़ ले तो आपका जिन्दगी जीने का नजरिया ही बदल जाएगा क्योकि ये किताब आपको जिन्दगी के कुछ पहलुओ पर महत्वपूर्ण बात बतायेगा |

अगर आप लाइफ में कुछ बढ़ा करना कहते हो, या फिर एक बड़ा लीडर, बिज़नस मैन बनना चाहते हो तो आपको ये किताब जरुर पढनी चाहिए| फिर भी मै आपको इस टॉपिक के माध्यम से be obsessed or be average की संक्षिप्त summary आपके सामने प्रस्तुत करना चाहता हु |

Be Obsessed Or Be Average Book Summary In Hindi | Grant Cardone Book Summary In Hindi

(1). जिन्दगी में जूनून का होना बहुत जरुरी है :

आज के समय आराम की जिन्दगी कौन नहीं चाहता है हर कोई चाहता है की मै रिलैक्स होकर मजे करू, रिटायरमेंट के बाद आराम की जिन्दगी जीकर मजे करू और कुछ लोग तो इसी आस में रहते हैं की कब में इस नौकरी से छुटकारा पाकर रिटायर हो जाऊ, उन्हें लगता है की वे अपने इस काम से ऊब गये हैं उनकी जिन्दगी बहुत बोरिंग हो गयी है लाइफ में कुछ भी रोमांच नहीं बचा है |

वैसे तो ऐसे लोगो के पास कई ऐसे अवसर आते हैं जहाँ ये अपनी जिन्दगी रोमांचक बना सके लेकिन ये उस मौके को गवां देते हैं |

जब भी आपके जीवन में ऐसी परिस्थिति आये तो आपके पास कई आप्शन हो सकते हैं जहानाप एक बेहतर निर्णय ले सकते हैं लेकिन आपको ये देखना है की क्या आपके लिए सही है उदाहरण के लिए यदि आप अपनी जॉब से बोर हो गये हो तो ऐसा नही की आप तुरंत जॉब छोड़ दो इसके बजाय आप कुछ दिन के लिए छुट्टी ले सकते हैं या फिर जॉब बदल सकते हैं |

ये सारी चीजे आपके साथ क्यों हो रही है? क्या आपने कभी इसके बारे में सोचा है? क्या पता आप जो भी काम कर रहे हो उसमे आपको कोई भी रूचि नहीं हो या फिर आप वो काम मजबूरी में कर रहे हो| अगर ऐसा कर रहे हो तो आपकी जिन्दगी में कभी रोमांच तो आएगा ही नहीं और ना ही आपके अंदर जूनून पैदा होगा |

लेखक का भी यही कहना है की आपके अंदर जूनून का होना बहुत जरुरी है क्योकि इसके बिना आप अपने लक्ष्य को हासिल नहीं कर सकते हैं |

Also Read : Inner Engineering Book Summary In Hindi

(2). मोटीवेट रहना है तो जूनून हमेशा बरकरार रहना चाहिए (Be Obsessed Or Be Average Book In Hindi) :

अगर आप किसी लक्ष्य हो हासिल करने में लगे हो तो आपके अंदर जूनून बरकरार रहने के लिए आपका मोटीवेट रहना काफी जरुरी है आपके इस सफर में निरंतरता बरकरार रहनी चाहिए नहीं तो जो जूनून आपके अंदर है वो कही कम ना हो जाए |

कोशिश ये रहनी चाहिए की जूनून को कम ना होने दे ये आपके हौसले को तोड़ सकता है क्योकि हमारी जिन्दगी में हमेशा एक जैसा समय तो नहीं रहता है कभी हम low feel भी करते हैं जिससे हमे काम करने का मन नहीं करता है |

अगर आपने अपना लक्ष्य हासिल कर भी लिया तो इसका मतलब ये नहीं होता की आपका काम हो गया आपको लगे रहना है एक लक्ष्य पूरा हो गया तो दूसरा लक्ष्य बनाओ ऐसे ही खाली बैठे नहीं रहना है आपके पास पूरे goals का भण्डार होना चाहिए जिसे आप एक एक करके पूरा करे |

अपने लक्ष्य को सिर्फ एक सीमित सीमा तक ही मत रखिये उसे जितना हो सकते उतना बढ़ा करिए जिससे आपका जूनून बरकरार रहेगा और आप हमेशा मोटीवेट रहोगे |

(3). हमेशा बड़ा सोचिए और प्रैक्टिकल भी रहिये :

आपके साथ आने वाले समय में क्या होने वाला है आपने जितनी भी मेहनत की है, जो भी सपने देखे है क्या वो पूरे होंगे? कुछ भी कहा नहीं जा सकता है ये आप ही क्या कोई भी सटीक नही बता सकता है |

एक बिज़नस मैन भी नहीं बता सकता है की उसका बिज़नस आने वाले कितने सालो तक ऐसे ही सफल रहेगा क्योकि challenges ऐसे ही आते रहेंगे और आपको effort लगाते रहना है और कुछ न कुछ नया आयर बड़ा सोचते रहना है तभी आप लम्बे समय तक sustain कर पाओगे |

और ये सब होगा कैसे जब तक आप बड़ा नहीं सोचते की कुछ नया करना है कुछ अलग करना है इसके चक्कर में आप इतने धीमे मत पड़ जाना की पता चला की आपको करना कुछ और था और हो कुछ और गया |

लाइफ में अगर आप धीमे पड़ गये तो आपके प्रतिद्वंद्वी आपसे आगे निकल जाएँगे और आप वही ठहर जाएँगे |

Also Read : The Defining Decade Book Summary In Hindi

(4). डर को डराने की कला (Be Obsessed Or Be Average Summary In Hindi) :

मनौवैज्ञानिक तौर पर देखा गया है की जो सबसे ज्यादा अपनी हार की वजह से डरते है उन्हें हारना सबसे खौफनाक लगता है वे हारना स्वीकार ही नहीं करना चाहते हैं जिसके चलते वे कुछ भी एक्शन लेने की हिम्मत नहीं करते हैं |

मान लीजिये आपने कोई बिज़नस शुरू किया है और इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है की वो सफल होगा भी की नही लेकिन आपको उसमे रूचि है और आपका काम करने की इच्छा है तो चाहे ये बिज़नस फेल भी हो जाए आपको इस बात का कोई डर नहीं है |

डर का होना भी जरुरी है लेकिन इसकी एक सीमा होनी चाहिए जिसमे हम डर की वजह से अपने काम की सीरियसनेस को समझे |

अगर आपको किसी काम को करने में डर लग रहा है तो इसका मतलब है की उस काम की आपके जीवन में काफी वैल्यू है भले ही आप डरे हुए हैं फिर भी आपको उस काम को करते रहना है और अपने डर को काबू करके उसमे जीत हासिल करना है |

(5). पैसो के इस्तेमाल की कला सीखना :

आज के समय सिर्फ पैसा कमाना ही सब कुछ है या नहीं? आपको क्या लगता है की बस मैंने पैसे कमा लिए तो मै एक दिन अमीर बना जाऊंगा इन पैसो को सेव करके |

क्या पैसे सेव करना ही सबकुछ है? आप किस तरह से पैसो का सही इस्तेलाम कर सकते है अगर पैसा आपके लाइफ में आगे बढ़ने में काम नहीं आ रहा है तो वो पैसा किसी काम का नहीं क्योकि आप उन पैसो का सही से इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं |

अब वो पहले का ज़माना नहीं रहा की लोग अपनी कमाई का कुछ हिस्सा सेव करने में विश्वास रखते थे आज का समय इन्वेस्टमेंट का है बड़े बड़े लोग इन्वेस्टमेंट पर विश्वास करते हैं और वही सबसे ज्यादा पैसा लगाते हैं |

याद रखना की पैसा उसी की इज्जत करता है जो पैसो का सही इस्तेमाल करना जनता है |

Also Read : The Magic Of Thinking Big Book Summary In Hindi

(6). जो आपसे नफरत करे उसे अपने जूनून का हिस्सा बनाइए (Be Obsessed Or Be Average In Hindi PDF) :

जब आप सफल हो जाते है तो आपके सास पास आपको hate करने वाले भी बहुत हो जाते हैं वे आपकी सफलता से जलने लगते हैं उन्हें जलने के सिवाय और कुछ नहीं सूझता है वे इसके अलावा ये नहीं सोचते हैं की क्यों ना मै भी इनकी तरह मेहनत कर लु जिससे एक दिन मै भी सफल हो सकता हु |

जिस तरह से सोशल मीडिया इतना बूम कर चुका है वही दूसरी तरह हर व्यक्ति सोशल मीडिया पर समय बिताता है जहाँ वो दूसरो पर टिप्पणी करता है, दूसरो की आलोचना करता है, दूसरो कर कमेंट करता है, दूसरो पर अपनी राय देता है अब हमे ये सोचना चाहिए की ऐसे लोगो को जवाब कैसे दिया जाए |

अब आप ये मान लीजिये की जो आपसे नफरत कर रहा है और आपकी आलोचना कर रहा है तो समझ लेना की आप सफल हो चुके तो बस आपको उन्हें स्वीकार करना है की उन्होंने आपके लिए इतना समय दिया है की वे आपके बारे में सोचते हैं |

हर कोई तरसता है की लोग उन्हें फॉलो करे, उनके बारे में जाने, उनकी ही बातें करे चाहे वो बाते नेगेटिव ही क्यों ना हो क्योकि इससे उन्हें अटेंशन मिलती है इसी तरह आपको भी ऐसे लोगो को स्वीकार करना है चाहे कोई आपको नेगेटिव बोल रहा हो या पॉजिटिव बोल रहा हो

(7). अपने आस पास बेस्ट लोगो की टीम बनाइए :

किसी भी बिज़नस की सफलता का राज क्या होता है सिर्फ मेहनत ही नहीं होती है इसके आलावा आपके पास क्रिएटिव माइंड और टीम वर्क का होना भी काफी जरुरी होता है आपको बिज़नस खड़ा करने के लिए आपके पास ऐसी टीम होनी चाहिए जो काफी क्रिएटिव और मेहनती हो तभी जाकर एक बिज़नस खड़ा होता है |

आज के समय जो भी बिज़नस खड़े है वे एक बेहतर रणनीति और टीम वर्क के साथ खड़े हुए हैं आज के समय सफल लोग अपने साथ एक बेहतर टीम रखते हैं |

अपनी टीम का आपके साथ भरोसा जीतना काफी जरुरी होता है और एक म्यूच्यूअल understanding होना भी काफी जरुरी होता है तभी आप एक बिज़नस को आगे ले जा सकते हैं |

कोई भी आपके साथ एक टीम बनकर क्यों काम करेगा जब तक आप उसे एक बेहतर सैलरी, इंसेंटिव, फैसिलिटी नहीं दोगे और जब तक उसे आपके साथ काम करने में मजा ना आये, जब आपकी टीम को खुद ये नहीं पता चलेगा की हमारा बॉस खुद काफी जुनूनी है अपने काम के प्रति तो वे कैसे काम करने में रूचि लेंगे ?

इसिलए टीम वर्क में किया गया काम हमेशा प्रभावी होता है और उसका रिजल्ट हमेशा पॉजिटिव निकलता है |

Final Word :

दोस्तों Grant Cardone की ये किताब Be Obsessed Or Be Average Book की Summary जिसमे लेखक ने बताने की कोशिश की है की अगर आप एक बड़ा आदमी बनना चाहते हो या जिन्दगी में कुछ हासिल करना चाहते हो तो इस किताब को अवश्य ही पढना चाहिए |

हमने आको इस टॉपिक के माध्यम से एक संक्षिप्त summary प्रस्तुत करने की कोशिश की है

Vikram mehra

मेरा नाम विक्रम मेहरा है मै उत्तराखंड का रहने वाला हु मैंने B.sc (PCM) से की हुई है और मुझे टेक्नोलॉजी, साइंस और लोगो को अपने ऑनलाइन माध्यम से शिक्षा देना बहुत पसंद है मेरा मकसद ऑनलाइन माध्यम से लोगो तक इनफार्मेशन पहुचाना है और साथ ही मुझे मूवीज देखना, घूमना बहुत पसंद है |

Leave a Reply