You are currently viewing Why A Students Work For C Students Book Summary In Hindi

Why A Students Work For C Students Book Summary In Hindi

दोस्तों आपने कई अमीर लोगो के नाम जरुर सुने होंगे और उनके नाम लेकर जरुर बताओ की वे लोग कितने पढ़े-लिखे होंगे? उदाहरण के लिए मुकेश अम्बानी, गौतम अड़ानी, एलन मस्क, बिल गेट्स इत्यादि |

अब आप देखिये की आप उनसे कितने पढ़े लिखे हैं हम में से कई लोग तो इन अमीर लोगो से कई ज्यादा पढ़े लिखे होंगे| किसी ने MBBS, Ph.D जैसी डिग्री हासिल करी होगी लेकिन फिर भी 9-5 की ही नौकरी कर रहे होंगे और एक सीमित सैलरी ही प्राप्त कर रहे होंगे| इन लोगो ने कभी भी ऐसे अमीर लोगो के जैसे बनने की कभी नहीं सोची होगी |

आखिर ऐसे क्यों होता है? क्यों कुछ लोग बहुत अमीर होते हैं और काफी पैसा कमाते हैं और कुछ लोग इसके अभावो में जीते हैं |

दोस्तों लेखक Robert Kiyosaki ने इस किताब के माध्यम से अमीरी के सिद्धांतो के बारे में बात करी है जिसे जानकर आपको भी अमीर व्यक्ति बनने में मदद होगी |

[Why A Students Work For C Students book in hindi | Why “A” Students Work For “C” Students summary in hindi | Why “A” Students Work For “C” Students audiobook in hindi | Why “A” Students Work For “C” Students audiobook summary in hindi Why “A” Students Work For “C” Students book by robert kiyosaki]

Also Read : Getting To Yes book summary in hindi

Why A Students Work For C Students Book Summary In Hindi By Robert Kiyosaki

Chapter-1: सही Cashflow Quadrant में प्रवेश करने से आपको अधिक पैसा मिलेगा

दोस्तों लेखक के अनुसार चार प्रकार के cashflow quadrant होते हैं अगर आपको इनके बारे में अच्छे से जानना है तो आपको पहले robert kiyosaki की किताब rich dad poor dad और rich dad cashflow quadrant एक बार जरुर पढ़ लें |

फिर भी मै आपको संक्षिप में बता दू की चार cashflow quadrant क्या होते हैं :

E- employee के लिए होता है S- small business के लिए होता है, B- big business के लिए होता है I- investor के लिए होता है |

हमें स्कूल और कॉलेज में जो भी पढाया जाता है उसमे केवल E और S quadrant के लिए पढाया जाता है लेकिन इन cashflow quadrant में आप सिर्फ गरीब ही बने रहते हैं और आप एक सीमित दायरे तक ही कमा पाते हैं जिसकी सीमा आपकी सोच तक सीमित रहती हैं |

हम देखते हैं की जो भी इंटेलीजेंट स्टूडेंट होते हैं वे इंजिनियर या डॉक्टर ही बनते हैं जिससे उन्हें लगता है की इस करियर में जाकर वे काफी अमीर बन जाएँगे| लेकिन ऐसा नहीं होता है वे 50-60 वर्ष तक नौकरी में ही पिसते रहते हैं और कभी अमीर नहीं बन पाते हैं ऐसे स्टूडेंट्स हमेशा E और S quadrant में ही रहेंगे क्योकि ये अमीर लोगो का quadrant नही होता है |

अगर आपको अमीर बनना है तो आपको B और I quadrant में जाना पड़ेगा |

दूसरी तरफ जो स्टूडेंट्स पढाई में कमजोर होते हैं वे आगे चलकर बहुत बड़ा काम कर लेते हैं क्योकि ऐसे लोगो में नेटवर्किंग स्किल काफी अच्छी होती है और उनके पास समय ही समय होता है पढने वाले बच्चो के पास इन सभी चीजो के लिए समय नहीं होता है |

इसीलिए अगर आप अमीर बनना चाहते है तो सबसे पहले अपनी नेटवर्किंग स्किल पर काम करे और इसके आलावा अपने पढाई या जॉब के साथ कुछ समय निकालकर अपना खुद का बिज़नस करने की कोशिश करें |

Chapter-2: यदि आप अपने बच्चो को आर्थिक रूप से अशिक्षित बनाना चाहते है तो उन्हें पैसे दें

अमीर घरो के बच्चे जिन्हें किसी भी चीज की कमी नहीं होती है उन्हें पैसो के सम्बन्धित कभी कमी नहीं होती है फिर चाहे महंगे कपडे, गिफ्ट या खाने-पीने की चीजे उन्हें कभी कमी महसूस नहीं होती है |

इस तरह के बच्चो को पैसो की अहमियत नहीं होती है और ना ही वे फाइनेंसियल समझ विकसित कर पाते हैं और आगे जाकर वे सारे पैसे बर्बाद कर देते हैं और इसी तरह से वे अपने बिज़नस को भी बर्बाद कर देते हैं |

इसे बजाय एक middle क्लास के बच्चे जिन्हें पैसो का अभाव रहता है वे इसकी अहमियत को अच्छे से समझते हैं और कैसे पैसो का मैनेजमेंट करना है इसे अच्छी तरह से जानते हैं और आगे जाकर काफी पैसा कमाते हैं |

अगर आपको अचानक ने एक करोड़ रूपये मिल जाए तो आप इसका क्या करोगे? बहुत सारे लोग बोलेंगे की जमा करेंगे या फिर जरूरत की चीजे खरीदेंगे |

लेकिन एक इंटेलीजेंट आदमी उन पैसो को या तो इन्वेस्ट करेगा या फिर बिज़नस में लगाएगा जिससे इस बिज़नस से वो रोजगार भी बढ़ाएगा |

Also Read : The power of habit summary in hindi

Chapter-3: गरीब लोग फाइनेंसियल एडवाइस की तलाश करते हैं लेकिन अमीर फाइनेंसियल एजुकेशन लेते हैं और अपने बच्चो को भी ऐसा करना सिखाते हैं

अगर हमे फाइनेंस से जुडी कोई भी समस्या होती है तो हम दूसरो से सलाह लेते हैं उनसे पूछते हैं की कौन सी FD करवानी चाहिए या फिर कौन सा लाइफ insurance लेना चाहिए या फिर कहा पैसा इन्वेस्ट करना चाहिए |

आपको जो भी अलाह मिलती है वो सभी बेकार होती है क्योकि आप जिन लोगो से सलाह लेते है उन्हें खुद ही मालूम नहीं होता है और आपकी नॉलेज अधूरी रह जाती है क्योकि वो भी आपको उतना ही बताएगा जितना उसे पता होता है |

लेकिन अमीर लोग ऐसा नहीं करते हैं वे प्रॉपर गाइडेंस लेते हैं या फिर अपने फाइनेंसियल सलाहकार से सलाह लेते है इसके अलावा इन्टरनेट और किताबो से भी जानकारी लेते रहते हैं |

Final Word :

दोस्तों Why “A” Students Work For “C” Students book की summary पढ़कर आपको काफी अच्छी जानकारी मिली होगी, जिसमे आप काफी अच्छे से फाइनेंसियल एजुकेशन के बारे में समझ गये होंगे |

अगर आपको इसकी summary अच्छी लगी तो आप इस किताब को पूरी अवश्य पढ़िए |

Vikram mehra

मेरा नाम विक्रम मेहरा है मै उत्तराखंड का रहने वाला हु मैंने B.sc (PCM) से की हुई है और मुझे टेक्नोलॉजी, साइंस और लोगो को अपने ऑनलाइन माध्यम से शिक्षा देना बहुत पसंद है मेरा मकसद ऑनलाइन माध्यम से लोगो तक इनफार्मेशन पहुचाना है और साथ ही मुझे मूवीज देखना, घूमना बहुत पसंद है |

Leave a Reply